जानिये Freelancing से घर बैठे-बैठे पैसे कैसे कमायें , Learn How to Make Money From Home (Part Time/Full Time)
जानिये Freelancing से घर बैठे-बैठे पैसे कैसे कमायें , Learn How to Make Money From Home (Part Time/Full Time)

जानिये Freelancing से घर बैठे-बैठे पैसे कैसे कमायें – Learn How to Make Money From Home (Part Time/Full Time)

SEMrush

जानिये Freelancing से घर बैठे-बैठे पैसे कैसे कमायें – Learn How to Make Money From Home (Part Time/Full Time)

Freelancing घर से काम करके पैसे कमाने का एक बहुत अच्छा और फायदेमंद तरीका है | इसमें आप एक ही समय में कई अलग अलग कंपनियों, संगठनों या व्यक्तियों के साथ अलग अलग Assignment लेते हैं और उन्हें तय समय पूरा करके Deliver करते हैं | जिसके बदले में सम्बंधित Company, Organization या Person आपको आपके द्वारा किये गए काम की Payment प्रदान करती है | Freelancing की बहुत सारी विशेषताएं हैं जैसे, अपनी पसंद की जगह से काम करना, काम का समय स्वयं निर्धारित करना, अपने काम की कीमत स्वयं निर्धारित करना आदि | आज Internet के युग में आपके पास Freelancing की बहुत सारी Opportunities हैं | अगर आप भी Freelancing को अपना Career बना कर पैसा कमाना चाहते हैं तो निम्न कुछ बातों का पालन करके ये काम आसानी से किया जा सकता है |

Freelancing – How to Make Money From Home

अपना Field/Niche चुनें:

हमारे देश में एक मशहूर कहावत है कि ‘दो नावों में एक साथ सवारी नहीं करनी चाहिए’ | ये कहावत Freelancing में बिलकुल सटीक बैठती है | बहुत सारे ऐसे Freelancer होते हैं जो कई तरह का काम करते हैं | ऐसा करना बिलकुल गलत है, क्योंकि कई Fields में काम करने से आप किसी के भी Expert नहीं बन पाते हैं, और आपको Clients मिलने में दिक्कतें (problems) हो सकती हैं | इसलिए Freelancing शुरू करने से पहले आपको अपना Niche पहचानना आवश्यक है | इसके लिए आप अपनी सभी Skills की एक List बनायें और उसमें से जो काम आप सबसे ज्यादा अच्छे से कर सकें उस Skill को अपना Niche बनायें | Niche चुनने से पहले इसकी Research भी कर लें कि इस Niche में काम मिलने की कितनी सम्भावना है | उदाहरण के लिए Web Development, Software and App Development, WordPress Assistance, Writing आदि में काम मिलने की संभावना अधिक रहती है | अतः बहुत सोच समझ कर और Proper Research करके ही अपना Niche निर्धारित करें |

अपनी Services और Client-Type निर्धारित करें:

आपको अपनी Services के बारे में Specific होना पड़ेगा | आप अपने Niche में क्या सेवाएँ प्रदान करेंगे और क्या नहीं करेंगे इस बात पर आपको अडिग रहना चाहिए | उदाहरण के लिए अगर आपका Niche “WordPress” हो तो आप अन्य Projects को सीधे न कहें | आपको अपने क्लाइंट्स (clients) का प्रकार भी पहले से निर्धारित कर लेना चाहिए | क्या आप Long-Term Projects वाली बड़ी कंपनियों के साथ काम करना चाहते हैं या फिर Short-Term Projects वाली छोटी कंपनियों या Startups के साथ ? जब आप अपनी Services और Client-Types के प्रति Sure रहते हैं तो आपको Client ढूंढने और चुनने में बहुत आसानी होती है |

अपने काम का मूल्य निर्धारित करें:

नए Freelancers या Freelancing शुरू करने जा रहे लोगों के लिए यह सबसे महत्वपूर्ण Point होता है कि उनके द्वारा किये गए काम का मूल्य क्या है ? यह बात Freelance Industry में आपका मूल्य निर्धारित करती है | आपको चाहिए कि आप अपने काम की एक Minimum Price निर्धारित करें और उससे कम Price में कभी काम न करें | यह Minimum Price इतनी होनी चाहिये कि इससे आपकी सारी वित्तीय जरूरतें पूरी हो सकें | आप समय समय पर अपने Skill Level के अनुसार इस Minimum Price को बढ़ाते रहें | लेकिन कभी भी इतनी कम Price से शुरुआत न करें कि उससे आपके खर्च (expenditure) भी न पूरे हों और इतनी अधिक Price से भी शुरुआत न करें कि कोई Client आपको Project ही न दे | Price को अपने काम, Experience और Market के अनुसार ही तय करें |

Portfolio बनायें

Freelancing में आपकी डिग्री (degree) या योग्यता (qualification) मायने नहीं रखती, आप जैसा काम करते हैं वो मायने रखता है | Clients अक्सर आपके पहले किये गए काम के Review और Samples को देखकर आपको चुनता है | अगर आप चाहते हैं कि आपके पास भी बड़े Project आयें तो उसके लिए आपको Clients को यह दिखाना होगा कि आपने पहले भी इस तरह का काम किया हुआ है | इसके लिए आपको अपनी एक Portfolio Website/Blog बनानी चाहिए | उस Portfolio में आप अपने Samples, Previous Works, Client Testimonials और Reviews को Include करिए | इससे आपके Clients को पता चलेगा कि आप उनका Project आसानी से पूरा कर सकते हैं |

SEMrush

अपनी Job को छोड़ने से कम से कम 6 महीने पहले Freelancing शुरू करें:

अगर आप फ्रीलांसिंग में full time career बनाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको वर्तमान जॉब (present job) को छोड़ने से पहले फ्रीलांसिंग में अपने पाँव जमाने होंगे| Freelancing के शुरूआती चरणों जैसे Niche चुनना, Portfolio बनाना आदि में आमतौर पर काफी सारा समय खर्च (spent too much time) होता है, और शुरुआत में Clients भी कम रहते हैं | इसलिए आपके लिए ये सबसे अनिवार्य बात है कि Clients की संख्या बढ़ने और अच्छी Income प्राप्त होने तक अपनी Regular Day-Job को छोड़ने के लिए नहीं सोचना चाहिए | क्योंकि सभी को अपनी रोजमर्रा की जरूरतों के लिए पैसों की जरुरत होती है (need money for regular expenditure) और अगर आपने अपनी Regular Day-Job समय से पहले छोड़ देते हैं तो आपको परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है | Regular Day-Job छोड़ने का सबसे उपयुक्त समय तब होता है, जब Freelancing से होने वाली Income आपकी Day-Job की Income का 75-80% हो जाय |

अपनी पहचान बनाने के लिए अपने Network का Use करें:

आपकी पहचान वह Quality है जो आपको नए Projects दिलाने में अत्यंत महत्वपूर्ण योगदान देती है | जितनी ज्यादा इस Industry में आपकी पहचान होगी उतने ही तेज़ी से और अधिक Projects आपको प्राप्त होंगे | पहचान बढ़ाने के लिए आप अपने Existing Network का प्रयोग करें | किसी कम्पनी से खुद Freelancing के लिए संपर्क करने से पहले आप अपने Colleagues, Family Members, Friends, Relatives या अन्य किसी परिचित व्यक्ति (from known person) से उस कंपनी को आपको Recommend करने के लिए कहें | उनके द्वारा Recommend किये जाने के बाद जब आप स्वयं उस Company से Contact करेंगे तो उसके द्वारा आपको Project प्राप्त होने की सम्भावना अधिक रहेगी | आप जिस Company के साथ काम करना चाहते हैं उससे सम्बंधित अपने Contacts ढूंढने के लिए Research करें | आप LinkedIn, Facebook, Google+ आदि के अपने Contacts को भी Recommendations भेजने के लिए कह सकते हैं लेकिन तभी जब वह आपके Real Contacts हों |

अपनी विश्वसनीयता (Credibility) बढ़ाएं:

आपकी Credibility नए Projects पाने में आपकी बहुत मदद करती है | विश्वसनीयता बढ़ाने के लिए आप अपनी Portfolio Site पर अपने पुराने Clients और Influencers की टिप्पणियां और Testimonials प्रदर्शित कर सकते हैं | आप एक Ebook लिखकर उसे सबके लिए Freely Available कर सकते हैं | उस Ebook में आप अपनी उपलब्धियों और योग्यताओं को Showcase कर सकते हैं | Social Media और अन्य माध्यमों से अपने Clients और अन्य लोगों से जुड़े रहें इससे भी Credibility बढ़ाने में मदद मिलती है |

अपनी Skills का स्तर ऊपर उठायें:

आपको अपनी Skills को ऊपर उठाने के लिए हमेशा प्रयासरत रहना चाहिए | अधिक Income प्राप्त करने के लिए ये आवश्यक भी है | चाहे आपका Niche Web Developement हो, Graphic Designing या कोई और इस हर दिन बदलती और Advanced होती दुनिया तथा Clients की बदलती Requirements के अनुसार आपको अपनी Skills में भी सुधार लाना चाहिए | Skills को Level Up करने के लिए ये जरुरी नहीं कि आप किसी Institute या College में Admission लेकर पढाई करें | आजकल हर Skill के लिए Online Courses उपलब्ध हैं | आप उन Courses की सहायता से आसानी से अपनी Skills का स्तर ऊपर उठा सकते हैं |

Best Online Freelancer Platforms (Websites)

कुछ समय पहले तक तो Freelancers के लिए काम ढूँढना कठिनाई (difficult) और मेहनत (hard work) का काम था | बहुत सारी Companies से संपर्क करना, उन्हें Emails भेजना और फिर जवाब का इंतज़ार करना बहुत ही Time-Taking काम होता था | नए Freelancers को तो Project मिलने में और अधिक कठिनाई होती थी | लेकिन आज हमारे पास ऐसी कई Websites उपलब्ध हैं जो हमें Freelancing Opportunities प्रदान करती हैं | इन Websites माध्यम से हम घर बैठे ही अपने NIche के अनुसार Freelance Projects Search करके उनपर Proposal भेज सकते हैं |

कुछ प्रमुख Freelance Websites निम्न हैं-

Freelancer

Upwork

Guru

Fiverr

Elance

Odesk

TrueLancer

WorkNHire

ProBlogger

Simply Hired

iFreelance

PeoplePerHour

SEMrush
x

Check Also

मिलिए गूगल ऐडसेंस डैशबोर्ड के नए इंटरफ़ेस से, Meet New Google Adsense Interface

मिलिए गूगल ऐडसेंस डैशबोर्ड के नए इंटरफ़ेस से- Meet New Google Adsense Interface

मिलिए गूगल ऐडसेंस डैशबोर्ड के नए इंटरफ़ेस से- Meet New Google Adsense Interface गूगल ऐडसेंस ...