जानिये ब्लॉगिंग बिजनेस में अपना और ब्लॉग का नाम कमाने का तरीक़ा | Blogging business mein apna aur blog ka naam kamane ka tarika
जानिये ब्लॉगिंग बिजनेस में अपना और ब्लॉग का नाम कमाने का तरीक़ा | Blogging business mein apna aur blog ka naam kamane ka tarika

जानिये ब्लॉगिंग बिजनेस में अपना और ब्लॉग का नाम कमाने का तरीक़ा | Blogging business mein apna aur blog ka naam kamane ka tarika

SEMrush

जानिये ब्लॉगिंग बिजनेस में अपना और ब्लॉग का नाम कमाने का तरीक़ा | Blogging business mein apna aur blog ka naam kamane ka tarika

ब्लॉग्स उतने ही पुराने हैं जितना कि इंटरनेट (blogging is as old internet)। ब्लॉगिंग में आज बहुत ही अच्छे अवसर (good chances) हैं। ब्लॉग एक नये व्यक्ति और बड़े बिजनेस दोनों के लिए सभी के साथ इंटरनेट पर अपना आइडिया शेअर करने का सशक्त माध्यम (good medium to share your thoughts and ideas) है। इसके कोई आश्चर्य नहीं है अगर आप भी इसकी ताक़त को आज़माकर लाभ उठाना चाहते हैं।

इसलिए आप ब्लॉगिंग का अगला बड़ा नाम बनना चाहते हैं, आप दूसरों को अपना कमाल दिखाना चाहते हैं, अनकही बातों पर प्रकाश डालना (share some unknown facts) चाहते हैं, या फिर शायद दूसरों को अपनी ओर आकर्षित (attract others on your blog) करना चाहते हैं। ब्लॉगिंग में सफलता पाने के लिए हर स्किल और टूल का प्रयोग (you know how to use skills and tools) आना चाहिए। लेकिन फिर भी प्रश्न ये उठता है कि आप ब्लॉग पर आख़िर लिखोगे क्या? (what you are going to write in your blog)

टॉपिक का चयन आपको ब्लॉगिंग (choosing a topic in blogging) में अगला बड़ा नाम बना सकता है या फिर आपके ब्लॉग की असफलता का बड़ा कारण बना सकता है। हम आपको वह सीक्रेट बताने जा रहे हैं (we are going to tell you the secret) जो आपको ब्लॉग वर्ल्ड में बड़ा नाम कमाने में हेल्पफ़ुल (helpful in creating big name) होंगे।

ब्लॉगिंग में बड़ा नाम (big name in blogging) | ब्लॉगिंग में  बड़ा नाम कैसे कमायें? (how to make name in blogging)

  1. सफलता सही टॉपिक के चयन पर निर्भर करती है | Choose your topic wisely to be a successful blogger

अगर आप कोई न्यूज़ साइट (news site) नहीं बना रहे हैं, जिसमें कई लेखक हों, तो आपको अपने ब्लॉग के एक टॉपिक या नीश (Topic or Niche) का चयन कर लेना चाहिए। भले ही आपको विभिन्न टॉपिक पर लिखने का आइडिया शुरुआत में पसंद आए (you may like various ideas to write) लेकिन रीडर्स अक्सर इस बात को समझने में नाक़ामयाब रहते हैं कि आखिर आप उनसे क्या शेअर करना चाहते हैं। इससे तो अच्छा है कि ब्लॉग बनाने से पहले ही एक नीश चुन लें जिसमें आपकी पकड़ अच्छी हो (you had perfect control on it) और आप अच्छे से अच्छे आर्टिकल्स लिख (you can write good articles) सकें, आप चाहें तो बाद में इसे और आगे बढ़ा सकते हैं।

SEMrush
  1. किसी दूसरे को देखकर तो बिल्कुल भी ब्लॉग न शुरू करें | Don’t start blog because someone other starts

अपने ब्लॉग का नीश चुनते समय अक्सर नये ब्लॉगर यही सबसे बड़ी ग़लती करते हैं। बहुत से कारण हो सकते हैं कि वह नीश दूसरे ब्लॉगर के लिए तो अच्छा हो (might be good for other blogger) लेकिन आपको वह सफल ब्लॉगर न बना पाए। विषय का ज्ञान, पैशन और ब्लॉग आथर पर पाठकों का विश्वास किसी ब्लॉग को सफलता का नया मक़ाम दिलाने में महत्त्वपूर्ण भूमिका अदा करते हैं। इसकी बजाय आप अपने आपको पहचानिए (know yourself) कि आप किस टॉपिक पर दुनिया को अपनी ओर मोड़ सकते (bend world on your blog) हैं और मनचाहा रिज़ल्ट पा सकते हैं।

  1. अपनी टॉरगेट आडियंस पहचानिए | Understand and know your targeted audience

उस विषय को चुनना जिस पर आप अच्छे से लिख (choose the topic on which you can write) सकते हैं, बहुत अच्छी बात है। लेकिन इस बात पर भी ध्यान देना बहुत आवश्यक है कि आख़िर उसे पढ़ने वाले कितने (how many users are their to read a topic of yours) लोग हैं? ब्लॉग के लिए रीडर्स ही न मिले तो ब्लॉग कैसे सफल हो सकता है? इसलिए यह देखना भी ज़रूरी है कि इंटरनेट पर आडियंस क्या क्या पढ़ना चाहती है (know what audience want to read on internet) और आप उसने किस तरह जुड़ सकते हैं। उदाहरण के लिए (for example) – गृहिणियाँ रेसिपी ब्लॉग में रुचि रख (house wives likes recipe sites) सकती हैं, लेकिन टेक सैवी पर्सन नहीं।

  1. प्रासंगिक कंटेंट | Relevant Content

इससे अधिक ब्लॉगिंग में और कुछ नहीं है। जब आप जान जाते हैं कि आपको क्या लिखना है और आप अपने रीडर्स से जुड़ेंगे तो आपको अपने कंटेंट को उनके लिए रेलेवेंट (Relevant) बनाना होता है। एक ब्लॉग आथर के रूप में इस बात का ध्यान रखना होता है कि आपके ब्लॉग पर आने वाला कोई भी रीडर अपना समय इंवेस्ट करता है। इसलिए उसके इंवेस्टमेंट पर आपको रिटर्न देना चाहिए और अच्छे से अच्छा प्रासंगिक कंटेंट लिखना चाहिए। आपको दूसरे ब्लॉग से कंटेंट चुरा चुराकर डालने से बचना (Avoid to copy and paste the blog) चाहिए। इसलिए ऐसे नीश पर लिखिए जिसके बारे में आप सचमुच जानकारी रखते हैं (select the topic about which you actually knows ) और रिसर्च करके अच्छे से अच्छा और यूनीक लिख सकते (do good research and write unique content) हैं जिससे पाठकों में आपके प्रति सम्मान बढ़े।

जब आप इन 4 बातों का पालन करना सीख (learn these 4 tricks and tips for a successful blog) जाते हैं, तो सफलता स्वयं आपके पास आ जाती है।

क्या आप हमारी बात से सहमत हैं? सोचिए क्या हमने यहाँ किसी प्वाइंट को छोड़ दिया है (does we forgot any point ?) या फिर जो आपने अपने ब्लॉगिंग अनुभव से सीखा है, हमारे साथ शेअर कीजिए। Share with us in comment box.

SEMrush
x

Check Also

ब्लॉगर ब्लॉग चुने या वर्डप्रेस ब्लॉग चुने- आखिर कैसे करे चुनाव, आइए जाने , Blogger blog chune ya wordpress blog chune- aakhir kaise kare chunaav, aaiye jaane

ब्लॉगर ब्लॉग चुने या वर्डप्रेस ब्लॉग चुने- आखिर कैसे करे चुनाव, आइए जाने | Blogger blog chune ya wordpress blog chune- aakhir kaise kare chunaav, aaiye jaane

ब्लॉगर ब्लॉग चुने या वर्डप्रेस ब्लॉग चुने- आखिर कैसे करे चुनाव, आइए जाने | Blogger blog chune ...