जानिये गूगल ऐडसेंस हीटमैप क्या है
जानिये गूगल ऐडसेंस हीटमैप क्या है

जानिये गूगल ऐडसेंस हीटमैप क्या है और वेबसाइट या ब्लॉग में विज्ञापन लगाने की सही जगह और ज़्यादा सीटीआर कैसे मिलता है | Jaaniye google adsense heat map kya hai aur website ya blog mein advertisement lagane ki sahi jagah aur jyada CTR kaise milta hai.

SEMrush

जानिये गूगल ऐडसेंस हीटमैप क्या है और वेबसाइट या ब्लॉग में विज्ञापन लगाने की सही जगह और ज़्यादा सीटीआर कैसे मिलता है |  Jaaniye google adsense heat map kya hai aur website ya blog mein advertisement lagane ki sahi jagah aur jyada CTR kaise milta hai.

जब कभी हम ऐडसेंस सीपीसी बढ़ाने की बात करते हैं, आप ज़रूर एक कॉमन शब्द (common words) हीटमैप के बारे में सुनते हैं। इस आलेख (in this post) में आपको ऐडसेंस हीटमैप के बारे में जानकारी मिलेगी (you will get information) ताकि आप अपनी साइट पर ऐडसेंस एड यूनिट को सही स्थान पर लगाकर अधिक क्लिक प्राप्त कर सकें।

ऐडसेंस हीटमैप ज़्यादा सीटीआर | Adsense heat map for more CTR

गूगल ऐडसेंस ब्लॉगिंग द्वारा कमाई करने का सबसे ज़बरदस्त ज़रिया (best source of income) है, लेकिन समस्या वही है कि कहाँ विज्ञापन (where to post add) लगाया जाए ताकि कमाई के लिए रास्ते खुल जाएँ। कोई भी ब्लॉगर अपनी ब्लॉग पोस्ट के साथ कमप्रोमाइज़ नहीं (no one wants to compromise) करना चाहेगा, इसलिए वह अच्छे से अच्छा कटेंट बनाएगा। जब भी पोस्ट के बीच में बिना सोचे समझे विज्ञापन लगाए जाते हैं, पाठक उनसे विचलित (distract) हो जाते हैं। गूगल पांडा (google panda) जबसे आया है, तब से लोग कंटेंट के नज़दीक़ कम विज्ञापन लगा रहे हैं। साथ ही एबव द फ़ोल्ड (above the fold) में विज्ञापन से अच्छी कमाई के आसार (growth in good income) बनने लगे हैं।

गूगल भी अधिक सीटीआर पाने के लिए एबव द फ़ोल्ड विज्ञापन यूनिट लगाने की सलाह (suggest) देता है। आइए अपने मक़सद की ओर बढ़ते हैं और ऐडसेंस एड यूनिट को ऐसी जगह लगाने के बारे में जानते हैं, जहाँ क्लिक होने की संभावना बहुत (possibility of clicks increased) अच्छी हो। ताकि आपको अच्छा कनवर्ज़न (good conversion rate) मिल सके। इसलिए आपाको ऐडसेंस हीटमैप के बारे में पता हो चाहिए।

ऐडसेंस विज्ञापनों को सही स्थान पर लगाकर आप अपने ब्लॉग का ट्रैफ़िक दोगुना (double your traffic) कर सकते हैं। विज्ञापनों को इस प्रकार लगाना चाहिए कि पाठक उनसे विचलित न हों। उन्हें आपकी ब्लॉग पोस्ट पढ़ते समय कोई कंफ़्यूज़न (confusion) न हो। आप थोड़ी सी समझदारी दिखा अपनी ऐडसेंस कमाई को दोगुना कर सकते हैं।

ऐडसेंस हीटमैप – ज़्यादा गहरा रंग यानि ज़्यादा सीटीआर | Adsense heatmap – dark color means more CTR

कई फ़ोरम्स (forums) के डिस्कशन (discussion) के बाद हमने एक गाइड (guide) तैयार की है, जिससे आप ऐडसेंस रेवेन्यू बढ़ा सकते हैं। आइए पहले गूगल के आधिकारिक हीटमैप (official heat map) पर नज़र डालते हैं। इसे देखकर ही आपको पता चल जाएगा कि कहाँ पर विज्ञापन लगाकर बिना यूज़र एक्सपीरियंस (user experience) गंवाएँ आप अच्छी कमाई कर सकते हैं।

इस बात में कोई दो राय नहीं है कि गैर टेक्नोलॉजी ब्लॉग (non technology blog) से दोगुनी कमाई होती है, क्योंकि टेक्नोलॉजी ब्लॉग के रीडर्स विज्ञापनों और उनके प्लेसमेंट (placement) से भली भांति परिचित होते हैं, इसलिए वे सामान्य विज्ञापनों को अनदेखा (ignore) कर देते हैं। वहीं दूसरी ओर लाइफस्टाइल (lifestyle), कुकिंग, हेल्थ (health), डेटिंग, एस्ट्रोलॉजी (astrology) वाले ब्लॉग से अधिक कमाई (more income) होने कारण पाठकों की विज्ञापनों के बारे में अनभिज्ञता है।

SEMrush

एक दूसरा फैक्ट (fact) भी है कि टेक्नोलॉजी ब्लॉग (technological blog) पढ़ने वाले पाठक आर्टिकल पढ़ने के सम्मान में किसी रुचिकर विज्ञापन पर क्लिक (click on interested add) करते हैं। जब कभी आप किसी पेज पर विज्ञापन लगाएँ तो इन बातों पर गौर (think about this) करें।

– आपका रीडर ब्लॉग क्यों पढ़ता है? (why reader reading your blog?)

– ब्लॉग पोस्ट या विज्ञापन क्या ज़्यादा ज़रूरी है? (what is more important blog post ya advertisement)

– पाठकों को बिना परेशान किए विज्ञापन कहाँ लगाएँ तो आमदनी बढ़ जाए? (Where to put the add to make earn money?)

स्मार्ट वर्क | Smart work

आप सोचते हैं कि अच्छी पोस्टें लिखकर आर्गैनिक ट्रैफ़िक (organic traffic) अधिक मिल सकता है, जिससे आमदनी बढ़ (increase the income) सकती है। लेकिन अपने विज्ञापनों को सही जगह पर लिखकर अगर पोस्ट प्रकाशित की जाए तो ट्रैफ़िक भी बढ़ेगा और आमदनी (increases the traffic and income) भी।

एड यूनिट प्लेसमेंट | Ad unit placement

विज्ञापन लगाने से पहले ये तो जान लीजिए कि ऐडसेंस की कितनी यूनिट (how many add units you can place) लगाई जा सकती हैं। पोस्ट की शुरुआत में लगाई गई टेक्स्ट यूनिट पर अधिक सीटीआर (more CTR on text units) मिलता है।

– आप मीडिया नेट विज्ञापनों (media net add) को कंटेंट के बीच में लगाकर बेहतर कमाई कर सकते हैं। इससे ऐड यूनिट बिल्कुल भी विज्ञापन (Add unit not look like add) की तरह नहीं लगती है। लेकिन ऐसे मामलों में कीवर्ड को लेकर बहुत सतर्कता बरतनी चाहिए।

– पोस्ट के टाइटल के ऊपर लगे विज्ञापनों (add above title of the post) पर ज़्यादा सीटीआर मिलता है।

– अगर आप कमाई करने पर ज़्यादा ध्यान लगा रहे हैं तो कंटेंट के बीच में लिंक यूनिट (unit link between the content) लगाकर देखें।

– गूगल सर्च यूनिट से भी कमाई (income from google search engine) होती है, इसके लिए ये सर्च बॉक्स (search box) उस जगह लगाएँ, जहाँ पर पाठक उसको हमेशा एक्सेस कर सके।

कुछ दूसरी जगहें जहाँ आपको ज़्यादा सीटीआर मिल सकता है: On some other places you can get more CTR for your website or blog.

– पोस्ट के ऊपर (above the post)

– साइडबार में ऊपर (upside on sidebar)

– साइडबार वीडियो यूनिट (अब उपलब्ध नहीं not available now)

इसलिए मैं आपको सलाह देता हूँ (i will suggest you) कि बिना रीडर्स को परेशान किए आप ऐड यूनिट का स्मार्ट मैनेजमेंट (smart management) करें। ताकि आप अपनी वेबसाइट की खाली जगह पर विज्ञापन लगा सकें। एक दूसरी पोस्ट आपको ऐडसेंस रेवेन्यू बढ़ाने की जानकारी देगी वो है – गूगल कस्टम सर्च यूनिट (google custom search unit)।

अगर आप हीटमैप इस्तेमाल कर रहे हैं या करना चाह रहे (if you are using or want to use) हैं, तो अपने अनुभव हमारे साथ शेअर (dont forgot to share your experience with us) करना मत भूलें।

SEMrush
x

Check Also

मिलिए गूगल ऐडसेंस डैशबोर्ड के नए इंटरफ़ेस से, Meet New Google Adsense Interface

मिलिए गूगल ऐडसेंस डैशबोर्ड के नए इंटरफ़ेस से- Meet New Google Adsense Interface

मिलिए गूगल ऐडसेंस डैशबोर्ड के नए इंटरफ़ेस से- Meet New Google Adsense Interface गूगल ऐडसेंस ...