जानिये अपनी ब्लॉग या वेबसाइट की एलेक्सा रैंक को बेहतर बनाने के कुछ बहुत ही जबरदस्त टिप्स , Jaaniye apne blog ya website ki alexa rank ko behtar banaane ke kuch jabardast tips
जानिये अपनी ब्लॉग या वेबसाइट की एलेक्सा रैंक को बेहतर बनाने के कुछ बहुत ही जबरदस्त टिप्स , Jaaniye apne blog ya website ki alexa rank ko behtar banaane ke kuch jabardast tips

जानिये अपनी ब्लॉग या वेबसाइट की एलेक्सा रैंक को बेहतर बनाने के कुछ बहुत ही जबरदस्त टिप्स | Jaaniye apne blog ya website ki alexa rank ko behtar banaane ke kuch jabardast tips

जानिये अपनी ब्लॉग या वेबसाइट की एलेक्सा रैंक को बेहतर बनाने के कुछ बहुत ही जबरदस्त टिप्स | Jaaniye apne blog ya website ki alexa rank ko behtar banaane ke kuch jabardast tips

गूगल पेज रैंक के बाद आपने ज़रूर ही एलेक्सा रैंक के बारे में सुना होगा। बहुत सी विज्ञापन एजेंसियाँ इस पर बहुत ध्यान देती हैं क्योंकि इसका सीधा सम्बंध आपके ब्लॉग ट्रैफ़िक से होता है। एलेक्सा रैंक जितनी कम उतना बढ़िया आपके ब्लॉग का ट्रैफ़िक होता है। गूगल अब पेज रैंक पर कोई अपडेट नहीं करने वाला है। लेकिन डोमेन अथारिटी, पेज अथारिटी, मॉज़ रैंक, क़्वांटकास्ट आदिक बहुत से मेट्रिक हैं जिनसे किसी ब्लॉग की रैंक और उसकी वैल्यू निर्धारित की जा सकती है। ये फ़ैक्टर एक महीने में एक बार अपडेट होते हैं वहीं एलेक्सा रैंक रोज़ अपडेट की जाती है। हर किसी को अपनी एलेक्सा रैंक पर नज़र बनाए रखनी चाहिए और उसे 1 लाख से कम करने की कोशिश करते रहनी चाहिए।

आप माने या न माने लेकिन आज भी बहुत से एडवर्टाइज़र्स किसी ब्लॉग की लोकप्रियता को उसकी एलेक्सा रैंक देखकर आंकते हैं। जिस ब्लॉग की एलेक्सा रैंक जितनी कम होती है, उसकी साइट पर उतने ज़्यादा दाम के विज्ञापन मिल सकते हैं।

एलेक्सा रैंक क्या है

Alexa.com अब एक एनॉलिटिक्स कम्पनी है जो हर साइट और ब्लॉग को उनके ट्रैफ़िक और अन्य पैरामीटर्स के आधार पर रैंक देती है। एलेक्सा रैंक हर दिन अपडेट होती है, जितनी कम रैंक उतनी ज़्यादा लोकप्रियता। कम रैंक से मतलब है कि जिस साइट की एलेक्सा रैंक 100 है वह 101 एलेक्सा रैंक वाली साइट से अच्छी होती है। यह क्लास में फ़र्स्ट आने जैसा है।

एलेक्सा रैंक कैसे देखते हैं

आप थोड़ा चौंक ज़रूर गए होंगे लेकिन एलेक्सा अमान्य सर्वे के आधार पर रैंक देता है। एलेक्सा सिर्फ़ उन्हीं साइट को रैंक देता है जो अपने वेबब्राउज़र में उसकी टूलबार इंस्टाल करते हैं, या उसका विजेट अपनी साइट पर लगाते हैं।

जो लोग ब्लॉगिंग को लेकर ज़रा भी सीरियस होते हैं वो एलेक्सा को भी सीरियस लेते हैं और उसकी टूलबार ज़रूर प्रयोग करते हैं, हम भी आपको इसे इंस्टाल करने की सलाह देते हैं।

एलेक्सा रैंक कैसे कम करें

एलेक्सा टूलबार इंस्टाल करके और ट्रैफ़िक बढ़ाकर एलेक्सा रैंक को कम किया जा सकता है। ट्रैफ़िक बढ़ाना आपकी लेखनी और कंटेंट शेअरिंग पर डिपेंड करता है। मैं कुछ टिप्स देता हूँ जो हेल्पफ़ुल रहेंगी।

  1. सोशल मीडिया को इग्नोर न करें

आज लगभग सभी फ़ेसबुक पर हैं और फ़ेसबुक में ऐसे कई ग्रुप हैं जिनमें सक्रिय सदस्यों की संख्या हज़ारों में है। आप अपने ब्लॉग से सम्बंधित विषय वाले एक्टिव ग्रुप में अपनी पोस्ट शेअर करें, इससे आपको बहुत पाठक मिलेंगे और फ़ाइनली आपकी साइट का ट्रैफ़िक बढ़ जाएगा।

  1. गूगल+ पर ध्यान दें

गूगल+ पर बहुत अधिक लोग प्रयोग नहीं कर रहे हैं लेकिन उस पर एक्टिव लोगों की पर्याप्त संख्या है जो आपके ब्लॉग के पाठक बन सकते हैं। इसलिए आपको गूगल प्लस कलेक्शन बनाना चाहिए और कम्यूनिटीज़ से जुड़कर उनमें अपनी पोस्ट शेअर करनी चाहिए।

  1. ब्लॉग आकर्षण बढ़ाएँ

जो भी ब्लॉगिंग कर रहा है या ब्लॉग बनाना चाहता है वह ब्लॉगिंग के बारे में अधिक से अधिक जानना चाहता है इसलिए आपको ऐसे लोगों को टारगेट करते हुए अपने ब्लॉग पर ब्लॉगिंग टिप्स का सेक्शन रखना चाहिए। जिससे लोग आपके ब्लॉग पर कुछ जानने आएं। अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो आप अपना ब्लॉगिंग अनुभव भी शेअर कर सकते हैं। कोई कॉम्पटीशन, कोई फ़्री ईबुक डाउनलोड या ऐसा ही कुछ रख सकते हैं।

  1. एलेक्सा प्रो सेवा प्रयोग करें

जब आपकी की बलॉग से आमदनी होने लगे और ट्रैफ़िक भी अच्छा हो जाए तो आप एलेक्सा प्रो सेवा का लाभ ले सकते हैं। इससे आपके ब्लॉग को बहुत हेल्प मिल सकती है।

जो लोग कंटेंट बिल्डिंग पर फ़ोक्स करते हैं, उनकी एलेक्सा रैंक बिना किसी टोटके के बढ़ती रहती है। आप हमारी बताई गई टिप्स को ज़रूर आज़माएं इससे आपको अपनी एलेक्सा रैंक 1 लाख से कम करने में पूरी हेल्प मिलेगी।

       

       
x

Check Also

विस्तार से जानिये वेबसाइट या ब्लॉग में बाउंस रेट का क्या मतलब होता है? , Detail mein jaaniye website ya blog mein bounce rate ka kya matlab hota hai.

विस्तार से जानिये वेबसाइट या ब्लॉग में बाउंस रेट का क्या मतलब होता है? | Detail mein jaaniye website ya blog mein bounce rate ka kya matlab hota hai.

विस्तार से जानिये वेबसाइट या ब्लॉग में बाउंस रेट का क्या मतलब होता है? | ...

error: Content is protected !!